Uttarakhand HC recognised river Ganga as the first living entity of India- Dainik Bhaskar
Advertisement

गंगा देश की पहली जीवित नदी, इसे इंसानों जैसे कानूनी अधिकार मिलें: उत्तराखंड HC

DainikBhaskar.com | Mar 20,2017 8:55 PM IST
  • गंगा देश की पहली जीवित नदी, इसे इंसानों जैसे कानूनी अधिकार मिलें: उत्तराखंड HC
  • गंगा देश की पहली जीवित नदी, इसे इंसानों जैसे कानूनी अधिकार मिलें: उत्तराखंड HC
    +2
देहरादून.    उत्तराखंड हाईकोर्ट ने सोमवार को एक सुनवाई के दौरान कहा कि गंगा नदी देश की पहली जीवित नदी (living entity) है और इसे वे सारे हक मिलने चाहिए जो किसी इंसान को मिलते हैं। हाईकोर्ट के इस फैसले के मायने ये हुए कि अगर कोई गंगा को पॉल्यूटेड करता है तो उस पर उसी हिसाब से कार्रवाई की जाएगी, जो किसी इंसान को नुकसान पहुंचाने पर की जाती है। किसी नदी को ऐसा दर्जा दिए जाने का दुनिया में यह दूसरा मामला है। इससे पहले न्यूजीलैंड की एक नदी को वहां की संसद ने ऐसा दर्जा दिया था।  और क्या कहा कोर्ट ने...
2 of 3
हाईकोर्ट ने उत्तराखंड सरकार को ऑर्डर दिया कि वो गंगा की सफाई और मेंटेनेंस के लिए गंगा एडमिनिस्ट्रेशन बोर्ड बनाए।
हाईकोर्ट ने उत्तराखंड सरकार को ऑर्डर दिया कि वो गंगा की सफाई और मेंटेनेंस के लिए गंगा एडमिनिस्ट्रेशन बोर्ड बनाए।
हाईकोर्ट ने उत्तराखंड सरकार को ऑर्डर दिया कि वो गंगा की सफाई और मेंटेनेंस के लिए गंगा एडमिनिस्ट्रेशन बोर्ड बनाए।
3 of 3
हाईकोर्ट के इस फैसले के मायने ये हुए कि अगर कोई गंगा को पॉल्यूटेड करता है तो उस पर उसी हिसाब से कार्रवाई की जाएगी, जो किसी इंसान को नुकसान पहुंचाने पर की जाती है।
हाईकोर्ट के इस फैसले के मायने ये हुए कि अगर कोई गंगा को पॉल्यूटेड करता है तो उस पर उसी हिसाब से कार्रवाई की जाएगी, जो किसी इंसान को नुकसान पहुंचाने पर की जाती है।

RECOMMENDED

Advertisement
Advertisement