Nations where rape crime rate is traveling to peak month by month.- Dainik Bhaskar
Advertisement

महिलाओं के लिए नर्क से कम नहीं दुनिया के ये 10 देश, जानिए क्या है वजह

dainikbhaskar.com | Jan 12,2017 12:30 PM IST
  • महिलाओं के लिए नर्क से कम नहीं दुनिया के ये 10 देश, जानिए क्या है वजह
  • महिलाओं के लिए नर्क से कम नहीं दुनिया के ये 10 देश, जानिए क्या है वजह
  • महिलाओं के लिए नर्क से कम नहीं दुनिया के ये 10 देश, जानिए क्या है वजह
  • महिलाओं के लिए नर्क से कम नहीं दुनिया के ये 10 देश, जानिए क्या है वजह
    +11
इंटरनेशनल डेस्क. बैंगलुरु में नए साल पर लड़कियों के मॉलेस्टेशन की न्यूज देश ही नहीं, बल्कि दुनिया भर की मीडिया की सुर्खियों में रही। यह मामला थमा नहीं है कि अब जयपुर में गैंगरेप और विक्टिम के मर्डर की कोशिश की घटना सामने आई है। हालांकि, इस मामले में सिर्फ भारत ही नहीं, दुनिया के कई ऐसे देश हैं, जहां महिलाओं की स्थिति बदतर है। यूनाइटेड नेशन के ह्यूमन राइट्स के आंकड़ों (2016) ने दुनिया के ऐसे 10 देशों की रिपोर्ट जारी की है, जहां रेप क्राइम अन्य देशों के मुकाबले कहीं ज्यादा है।
2 of 12
फोटो (ग्राफिक)
फोटो (ग्राफिक)
फोटो (ग्राफिक)
3 of 12
रेप के मामले में सबसे पहला नाम साउथ अफ्रीका का आता है। पिछले कई सालों से रेप क्राइम में इस देश नाम नंबर वन पर है, जिसके चलते इसे रेप कैपीटल कहा जाने लगा है। सबसे ज्यादा चौंकाने वाला आंकड़ा तो यह है यहां हर 36 सेकंड में एक महिला का रेप होता है। यूएन ह्यूमन राइट्स के आंकड़ों के अनुसार गत वर्ष यानी की 2016 में यहां 54,00640 रेप के मामले दर्ज किए गए। सबसे ज्यादा छोटी लड़कियों (10 से 15 वर्ष) के साथ रेप के मामले दर्ज किए गए।
4 of 12
रेप क्राइम के मामले में अफ्रीकी देश बोत्सवाना का नाम दूसरे नंबर पर आता है। कम जनसंख्या वाले इस देश में रेप क्राइम का रेशो सबसे ज्यादा है। प्रति 1 लाख की आबादी में रेप विक्टिम का आंकड़ा 9,200। वहीं देश की आबादी करीब 23 लाख है। इसके अनुसार रेप विक्टिम की संख्या 2,11,00 होती है। वहीं, देश की 40 फीसदी जनसंख्या अंतरराष्ट्रीय गरीबी रेखा से नीचे 1.25 अमेरिकी डॉलर (करीब 85 रुपए) प्रतिदिन से कम आमदनी में गुजारा करती है। 
5 of 12
रेप क्राइम में तीसरे नंबर पर भी अफ्रीकी देश बोत्सवाना का नाम आता है। तकरीबन 22 लाख (2014 की गणना के अनुसार) की आबादी वाले इस देश में प्रति 1 लाख की आबादी में रेप विक्टिम का आंकड़ा 2,300 है। इस तरह देश की आबादी के अनुसार रेप विक्टिम का प्रतिवर्ष का आंकड़ा 50,600 होता है। क्राइम के मामले में भी लेसोथो दुनिया के सबसे खतरनाक देशों में से एक है। किडनैपिंग, मर्डर, ह्यूमन ट्रैफिकिंग, सेक्शुअल अजॉल्ट, चोरी आम बात हो गई है। कानून व्यवस्था भी लचर है, जिसके चलते अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।
6 of 12
रेप क्राइम में चौथे नंबर पर भी अफ्रीकी देश बोत्सवाना का नाम आता है। तकरीबन 12 लाख (2015 की गणना के अनुसार) की आबादी वाले इस देश में प्रति 1 लाख की आबादी में रेप विक्टिम का आंकड़ा 3,500 है। इस तरह देश की आबादी के अनुसार रेप विक्टिम का प्रतिवर्ष का आंकड़ा 42,000 होता है। देश में राजशाही प्रथा है। लीगल सिस्टम लचर है, जिससे क्राइम का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। 
7 of 12
ब्रिटिश आईलैंड बरमूडा का नाम रेप क्राइम में पांचवें नंबर पर आता है। तकरीबन 66 हजार की आबादी वाले इस देश में प्रति 10 हजार की आबादी में ही रेप विक्टिम का आंकड़ा 800 है। इस तरह देश की कुल आबादी के अनुसार प्रतिवर्ष रेप विक्टिम का आंकड़ा तकरीबन 5000 होता है। 
8 of 12
उत्तरी यूरोपियन देश स्वीडन की जनसंख्या 98,59000 है। वहीं, रेप क्राइम की बात करें तो प्रति 1 लाख की आबादी में ही रेप विक्टिम की संख्या करीब 6300 है। इस तरह देश की कुल आबादी के अनुसार प्रतिवर्ष रेप विक्टिम का आंकड़ा तकरीबन 6,17,400 तक पहुंचता है। यूरोपियान यूनियन कंट्रीज में स्वीडन सबसे ज्यादा क्राइम वाला देश माना जाता है। 
9 of 12
दक्षिण अमरीका महाद्वीप के उत्तर में स्थित सूरीनाम एक छोटा देश है। साल 2014 की गणना के अनुसार देश की कुल आबादी 5,74,000 है। वहीं, रेप क्राइम की बात करें तो यहां प्रति 1 लाख की आबादी में रेप विक्टिम की संख्या करीब 4500 है। इस तरह देश की कुल आबादी के अनुसार प्रतिवर्ष रेप विक्टिम का आंकड़ा तकरीबन 23,000 है। देश की सरहदें साउथ अमेरिका के अलावा गुआना और ब्राजील से भी लगती हैं। गरीबी के साथ-साथ देश जातीय संषर्ष से भी जूझ रहा है। जनसंहार, लूटपाट, ड्रग्स ट्रेड और रेप क्राइम का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है।
10 of 12
मध्य अमेरिका में कैरिबियाई क्षेत्र में स्थित कोस्टा रीका की भी गरीब देशों में गिनती होती है। देश की कुल आबादी 4,586,353 है। यहां प्रति 1 लाख की आबादी में रेप विक्टिम की संख्या करीब 3600 है। इस तरह देश की कुल आबादी के अनुसार प्रतिवर्ष रेप विक्टिम का आंकड़ा तकरीबन एक लाख चालीस हजार है। 20वीं शताब्दी में एक 44 दिन के भयंकर गृह युद्ध के बाद सन् 1949 में इस देश ने अपनी सेना समाप्त कर दी और दुनिया के उन बहुत कम देशों में से एक हो गया, जिसकी कोई सेना नहीं है।
11 of 12
तकरीबन 130,373 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल के साथ निकारागुआ, मध्य अमेरिका का सबसे बड़ा देश है। देश की कुल आबादी करीब 62 लाख है। वहीं, रेप क्राइम की बात करें तो यहां प्रति 1 लाख की आबादी में रेप विक्टिम की संख्या करीब 3000 है। इस तरह देश की कुल आबादी के अनुसार प्रतिवर्ष रेप विक्टिम का आंकड़ा तकरीबन 1 लाख 86 हजार है।
12 of 12
ग्रेनाडा दक्षिण पूर्वी कैरेबियन सागर में ग्रेनेडियन्स के दक्षिणी छोर पर स्थित एक देश है, जो ग्रेनाडा द्वीप और छह छोटे द्वीपों से मिलकर बना है। देश की कुल आबादी करीब 1 लाख 10 हजार है, जिसमें 1 लाख की आबादी में रेप विक्टिम की संख्या करीब 3000 है। 2012 में रेप की सजा 8 साल से बढ़ाकर 15 साल कर दी गई, तबसे रेप क्राइम की संख्या में कमी दर्ज की गई।

RECOMMENDED

Advertisement
Advertisement