Offline
You are currently offline.
Please try again

No Internet Connection You are offline !

TRY AGAIN

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
Advertisement
Click to listen..

3 वर्षों में बढ़ा रेप व छेड़छाड़ के झूठे केसों का सिलसिला, हर तीसरा केस हुआ कैंसिल

Bhaskar News | Oct 07,2016 5:47 AM IST
रोहतक.  कुछ वर्षों से महिला विरुद्ध अपराधों को लेकर सरकार कोर्ट जितनी सख्त हुई है, इन कानूनों की आड़ में निजी स्वार्थ रंजिशन लोगों को फंसाने का ग्राफ उतना ही बढ़ा है। पुलिस के आंकड़ों पर गौर करें तो दुष्कर्म और छेड़छाड़ के फर्जी मामलों में पिछले तीन वर्षों से एकाएक बढ़ोतरी हुई है। वर्ष 2014 से अब तक दुष्कर्म का हर चौथा और छेड़छाड़ का हर तीसरा केस फर्जी दर्ज हुआ। इन तीन वर्षों में दुष्कर्म के अब तक 174 केस दर्ज हुए, जिनमें से 42 कैंसिल हुए, वहीं छेड़छाड़ के 386 मामलों में एफआईआर दर्ज हुई जिनमें 107 झूठे पाए गए। अपराधों के ग्राफ में कमी बेशक आई हो, लेकिन झूठे मुकदमे दर्ज करवाने की बढ़ रही मानसिकता समाज के साथ पुलिस के लिए भी किसी चुनौती से कम नहीं हैं। 

RECOMMENDED

Advertisement
Advertisement
हमें खेद है कि आप OPT-OUT कर चुके हैं लेकिन, अगर आपने गलती से "Block" सेलेक्ट कर दिया था या फिर भविष्य में आप नोटिफिकेशन पाना चाहते हैं तो नीचे दिए निर्देशो का पालन करें ।
Got it
GO BACK
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rohtak News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.