Crime Branch To Solve Death Mystery Of Om Puri- Bollywood Bhaskar
Advertisement

नोटबंदी के दौरान ओम पुरी ने ड्राइवर के खाते में जमा कराए थे पैसे: डेथ मिस्ट्री में खुलासा

Nishat Shamsi | Jan 13,2017 4:06 PM IST
  • नोटबंदी के दौरान ओम पुरी ने ड्राइवर के खाते में जमा कराए थे पैसे: डेथ मिस्ट्री में खुलासा
  • नोटबंदी के दौरान ओम पुरी ने ड्राइवर के खाते में जमा कराए थे पैसे: डेथ मिस्ट्री में खुलासा
  • नोटबंदी के दौरान ओम पुरी ने ड्राइवर के खाते में जमा कराए थे पैसे: डेथ मिस्ट्री में खुलासा
    +3
मुंबई.   ओम पुरी की डेथ मिस्ट्री की जांच में अब मुंबई क्राइम ब्रांच भी जुट गई है। मुंबई पुलिस के सूत्रों ने DainikBhaskar.com को बताया कि जांच में फिलहाल किसी को भी क्लीन चिट नहीं दी गई है। वहीं, क्राइम ब्रांच की जांच में नया खुलासा यह हुआ है कि नोटबंदी के दौरान ओम पुरी ने अपने ड्राइवर के अकाउंट में कुछ पैसे ट्रांसफर किए थे। हालांकि, अमाउंट का फिगर फिलहाल सामने नहीं आया है। इस केस में यह भी खुलासा हुआ है कि ओम पुरी के अंतिम संस्कार के बाद नंदिता उनके फ्लैट में गईं। वहां उनके साथ वकील के अलावा एक और शख्स था। खुद ड्राइवर ने कबूली बात...
2 of 4
ओम पुरी और उनकी दूसरी पत्नी नंदिता पुरी। मुंबई पुलिस नंदिता से पूछताछ कर चुकी है।
ओम पुरी और उनकी दूसरी पत्नी नंदिता पुरी। मुंबई पुलिस नंदिता से पूछताछ कर चुकी है।
ओम पुरी और उनकी दूसरी पत्नी नंदिता पुरी। मुंबई पुलिस नंदिता से पूछताछ कर चुकी है।
3 of 4
ओम पुरी (66) अपने घर में मृत मिले थे। उनके सिर पर जख्म का निशान था।
ओम पुरी (66) अपने घर में मृत मिले थे। उनके सिर पर जख्म का निशान था।
ओम पुरी (66) अपने घर में मृत मिले थे। उनके सिर पर जख्म का निशान था।
6# हर कॉल का रिकॉर्ड रखते थे ओम पुरी
 
- ओम पुरी के करीबियों ने बताया कि वे गैरजरूरी कॉल रिकॉर्ड्स डिलीट कर देते थे, लेकिन नंदिता पुरी से हुई हर बात का रिकॉर्ड सेव रखते थे।
- "मोबाइल के कॉल रिकॉर्ड में ओम पुरी और नंदिता के बीच तलाक के बाद हुई बातें भी दर्ज थीं। मौत से 24 घंटे पहले भी ओम पुरी और नंदिता की कई बार बातचीत हुई। ओम पुरी किसी बात के लिए नंदिता को मना रहे थे।"
 
7# अनुपम खेर को फ्लैट के बाहर रोका गया था
 
- सूत्रों की मानें तो ओम पुरी की मौत के बाद शुक्रवार सुबह 8.56 बजे नंदिता वकील लेकर ऑकलैंड पार्क स्थित फ्लैट पहुंचीं।
- बिल्डिंग के कुछ लोग और ओम पुरी का ड्राइवर राम प्रमोद मिश्रा वहां थे। नंदिता ने सबसे पहले शव देखा। फिर सीधे कमरे में गईं। 
- फिर वहां मौजूद लोगों को बाहर कर दिया। अनुपम खेर को भी बाहर रुकने को कहा गया। शव अस्पताल ले जाते वक्त नंदिता ने ओम पुरी का बैग अपनी गाड़ी में रख लिया था।
 
8# नंदिता ने अकाउंट फ्रीज करवा दिए
 
- पुलिस ने ये बताया कि नंदिता ने बिना सूचना दिए ओम पुरी के तीन अकाउंट भी फ्रीज करवा दिए। इस वजह से उनके स्टाफ की सैलरी भी नहीं आ पाई। स्टाफ को सैलरी देने से नंदिता ने इनकार कर दिया।
 
9# सभी प्रोड्यूसर्स से कहा- जल्द दो ओम पुरी की फीस
 
- नंदिता ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही उन सभी प्रोड्यूसर्स से ओम पुरी की फीस जल्द से जल्द देने को कहा, जिनके साथ वो काम कर रहे थे।
 
10# उड़ी में शहीद जवान पर दिए अपने बयान से शर्मिंदा थे ओम पुरी, US में शिफ्ट होने की तैयारी कर ली थी
 
- ओम पुरी जिंदगी के आखिरी दिनों में बेहद परेशान थे। उन्होंने देश में अपनी प्रॉपर्टी बेचने और फिर अमेरिका में शिफ्ट होने की तैयारी कर ली थी। उन्होंने एक करीबी से अपनी प्रॉपर्टी का असेसमेंट करा लिया था।
- वे शहीद सैनिक नितिन यादव के बारे में दिए अपने बयान और उसके बाद हुई आलोचना से बहुत शर्मिंदा थे। करीबी दोस्तों ने भी उन्हें कड़ी फटकार लगाई थी।
- उन्होंने एक चैनल के शो में कहा था, "कौन जबरदस्ती लोगों को फौज में भेजता है? हमने किसी जवान को फोर्स किया था कि फौज में जाओ।''
4 of 4
ओम पुरी की डेथ मिस्ट्री की जांच अब मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच भी कर रही है।
ओम पुरी की डेथ मिस्ट्री की जांच अब मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच भी कर रही है।
11# बदल गया गिलास
 
- पुलिस सूत्रों ने Dainikbhaskar.com को बताया कि नंदिता से झगड़े के दौरान ओम पुरी का वो गिलास बदल गया था, जिसमें वे शराब पी रहे थे।
- प्रोड्यूसर खालिद किदवई ने पुलिस से कहा कि ओम पुरी जब नंदिता से मिलने गए तो उनके हाथ में स्टील का गिलास था। वे जब वापस लौटे तो उनके हाथ में शीशे का गिलास था और शराब भी बदली हुई थी।
- पुलिस ने बताया, "बिल्डिंग के सीसीटीवी फुटेज से भी गिलास बदलने की बात कन्फर्म हुई है। इसके अलावा, वहां मौजूद गार्ड ने भी बताया कि पहले ओम पुरी के हाथ में स्टील का गिलास था।"
 
12# फ्लैट पर भी गई थीं नंदिता
 
- ओम पुरी की मौत के बाद नंदिता पुलिस को बताए बिना उनके खंडाला स्थित बंगले पर गईं और उसकी चाबियां ले लीं। इसके अलावा वे ओम पुरी के फ्लैट पर भी गई थीं।
 
13# नंदिता ने पहली पत्नी को फोन पर कहा- अंतिम संस्कार में मत आना
 
- नंदिता ने ओम पुरी की मौत के बाद शुक्रवार दोपहर 1 बजे उनकी पहली पत्नी सीमा को फोन पर कहा कि तुम अंतिम संस्कार में मत आना। सीमा ने पुलिस से मदद मांगी थी। हालांकि, शबाना आजमी ने सीमा को ओम पुरी का चेहरा दिखाया।

14# आठ दिन से लगातार पहली पत्नी से बात कर रहे थे ओम पुरी
 
- ओम पुरी 8 दिनों से लगातार पहली पत्नी सीमा से बात कर रहे थे। उन्होंने सीमा को मैसेज किया, "तुम मेरा प्यार हो, लेकिन ईशान मेरी जान।" बता दें कि ईशान ओम पुरी और नंदिता के बेटे हैं।
 
15# लुंबिनी में आखिरी सांस लेना चाहते थे ओम पुरी, कहा था-नसीरुद्दीन मुझे समझ नहीं पाए
 
- मौत से एक दिन पहले ओम पुरी ने अपनी PRO स्मिता सिंह से बातचीत की थी। स्मिता ने DainikBhaskar.com को बताया कि ओम पुरी अज्ञातवास के लिए लुंबिनी (नेपाल) जाना चाहते थे। वहीं वे शरीर छोड़ना चाहते थे। पुरी अपनी नेगेटिव इमेज बनने से भी दुखी थे। 
- स्मिता के मुताबिक, ओम पुरी पॉलिटिक्स में जाना चाहते थे। वे कहते थे- मैं एक पॉलिटिकल पार्टी भी बनाना चाहता हूं, जिसका नाम 'इंसानियत' होगा।
- स्मिता के मुताबिक- ओम ने मुझसे कहा था,  "नसीर साहब मुझे नहीं समझ पाए, मेरे बहुत पुराने मित्र हैं। पहले मुझे ओम पुरी के नाम से बुलाते थे और अब ओम कहकर बुलाते हैं।"
- "अब चाहे फिल्म इंडस्ट्री के लोग हों या मीडिया के लोग हों, मेरे जाने के बाद ही मेरी अहमियत समझेंगे और मेरे बारे में चीजों को खोजेंगे।"

RECOMMENDED

Advertisement
Advertisement